Friday, October 9, 2009

परिचय

सब सं पहिने एहि ब्लॉग केर दर्शक आ तकर बादो इच्छा राखि हमर कविताक पाठक लोकनिकें हमर नमस्कार। यदा-कदा जखन अतिव्यस्तता नहि रहैत अछि तखन कखनो क' किछु विचार मोन में उठैत अछि जे पंक्तिबद्ध भ' कविता सन भ' जाइत छैक आ कखनो क' विचारे ततबा शक्ति संग अबैत छैक जे आन काज छोडि एही में व्यस्त होबय परैत अछि। कयिएक बेर कैक टा लिखाइत छैक फेर अपने नीक नहि लागल त छोडि देत छियैक । ताहि में स' जे अपना ठीक ठाक बुझा परल से अहाँक समक्ष राखि रहल छी।

No comments:

Post a Comment